Friday, March 22, 2019
Home > Top Photos > भीषण कोहरा ,धुंध छाई रहने की वजह से विमानों का संचालन गड़बड़ाया

भीषण कोहरा ,धुंध छाई रहने की वजह से विमानों का संचालन गड़बड़ाया

लखनऊ Ap3– लखनऊ में रविवार को भीषण कोहरा और धुंध छाई रहने की वजह से विमानों का संचालन गड़बड़ा गया। आलम यह हुआ कि इसकी वजह से राजधानी के चौधरी चरण सिंह इन्टरनेशनल एयरपोर्ट पर आने – जाने वाली विमान सेवाएं सुबह से दोपहर बाद तक करीब 1 घंटे से 5 घंटे तक विलंब रहीं। विमान संचालन प्रभावित होने से यात्रियों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। एयरपोर्ट सूत्रों की मानें तो लखनऊ के अलावा दिल्ली में भी मौसम काफी खराब रहा। रविवार को कोहरा और धुंध छाए रहने के कारण चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट से सुबह 6:10 बजे दिल्ली जाने वाली इंडिगो की उड़ान करीब 4 घंटे देरी से उड़ान भर सकी। इसी तरह सुबह 6:50 बजे हैदराबाद जाने वाली इंडिगो उड़ान करीब 5 घंटे, सुबह 7:30 बजे कोचीन जाने वाली इंडिगो की उड़ान करीब साढ़े 4 घंटे, सुबह 8:25 बजे इलाहाबाद जाने वाला जेट एयरलाइंस का विमान करीब 4 घंटे, सुबह 8:30 बजे कोलकाता जाने वाला इंडिगो विमान करीब पौने 4 घंटे, सुबह 8:35 बजे बेंगलुरु जाने वाला इंडिगो विमान करीब सवा घंटा, सुबह 8:40 बजे दिल्ली जाने वाली एयर इंडिया की उड़ान करीब 1 घंटा, सुबह 8:45 बजे दिल्ली जाने वाली इंडिगो की उड़ान करीब 3 घंटे, पूर्वाहन 10:50 बजे दिल्ली जाने वाली इंडिगो की उड़ान करीब 2 घंटा और पूर्वाहन 11:10 बजे पुणे जाने वाली इंडिगो की उड़ान करीब डेढ़ घंटे देरी से उड़ान भर सकी। इसी प्रकार जयपुर और कोलकाता जाने वाली इंडिगो की उड़ान व मस्कट जाने वाला ओमान एयरलाइंस विमान चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट से करीब 1 घंटे देरी से उड़ान भर सका। वहीं कोलकाता से सुबह 6:20 बजे चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट पहुंचने वाला इंडिगो का विमान करीब पौने 5 घंटे देरी से अमौसी एयरपोर्ट पहुंचा। जबकि पुणे से सुबह 6:30 बजे चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट पहुंचने वाली इंडिगो उड़ान करीब पौने 4 घंटे, दिल्ली से सुबह 7:40 बजे आने वाली इंडिगो की उड़ान करीब सवा 3 घंटे, पूर्वाहन 10:20 बजे दिल्ली से आने वाली इंडिगो की उड़ान करीब 1 घंटा, पूर्वाहन 11 बजे दिल्ली से आने वाली जेट एयर लाइंस की उड़ान करीब डेढ़ घंटा और पुणे से अपराहन 3:50 बजे चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट पहुंचने वाली जेट एयरलाइंस की उड़ान करीब सवा घंटे देरी से अमौसी एयरपोर्ट पहुंच सकी।