Saturday, August 24, 2019
Home > Crime > दो मासूम बच्चों के साथ महिला ने लगाई फांसी

दो मासूम बच्चों के साथ महिला ने लगाई फांसी

मां-बेटी की मौत, बेटे की चल रही सांसे। पुलिस ने अस्पताल में करवाया भर्ती
मड़ियांव थाना क्षेत्र के मुबारकपुर की घटना
लखनऊ संवाददाता – मड़ियांव के मुबारकपुर की नई बस्ती में एक महिला ने अपने दो मासूम बच्चों के साथ फांसी लगा ली। तीनों को फंदे से उतारकर बीकेटी स्थित सौ शैय्या अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने मां-बेटी को मृत घोषित कर दिया। जबकि उसके मासूम बेटे का इलाज चल रहा है। डॉक्टरों ने उसकी भी हालत नाजुक बताई है। पुलिस ने मां बेटी के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।


इंस्पेक्टर मड़ियांव संतोष कुमार सिंह ने बताया कि अलीगंज निवासी डॉ.अशोक का मड़ियांव थाना क्षेत्र स्थित मुबारकपुर नई बस्ती में मकान है। जहां अन्य किराएदारों के साथ ही एक कमरे में रायबरेली निवासी रमेश कुमार सोनी बीते छह महीने से पत्नी चित्रा उर्फ बरखा (30) बेटी साक्षी (3) और बेटा अनुग्रह उर्फ रौनक (5) के साथ रहता है। रमेश मुबारकपुर चौराहे पर सब्जी का ठेला लगाकर परिवार का खर्च उठाता था। इंस्पेक्टर के मुताबिक मंगलवार की शाम रमेश ठेला लेकर चौराहे पर चला गया। इधर जब काफी देर तक चित्रा व उसके बच्चे कमरे से बाहर नहीं निकले, तो पडोसी किराएदार महिला ने आवाज लगाई। दरवाजा अंदर से बंद था। झांक कर देखा तो चित्रा दोनों बच्चों के साथ पंखा और प्लास्टिक के तार के सहारे फांसी पर लटक रही थी। जिसकी सूचना उसने रमेश व अन्य लोगों को दी। तीनों को फंदे से उतारकर बीकेटी स्थित रामसागर मिश्र सौ शैय्या अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टर रोहित सिंह ने बताया कि चित्रा और साक्षी की अस्पताल लाने से पहले ही मौत हो गई थी। जबकि अनुग्रह की सांसे चल रही हैं। उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। इंस्पेक्टर मड़ियांव संतोष कुमार सिंह ने बताया कि मृतका का सुसाइड नोट मिला है। जिसमे अपनी जिंदगी से परेशान होकर खुदकुशी करने की बात लिखी है। मामले की जांच की जा रही है।

error: Content is protected !!