Tuesday, June 25, 2019
Home > Top Stories > अतिक्रमण हटाने के दौरान दुकानदारों का हंगामा, सड़क जाम

अतिक्रमण हटाने के दौरान दुकानदारों का हंगामा, सड़क जाम

नगर निगम ने कुर्सी रोड, बायोटेक पार्क के पास चलाया अतिक्रमण अभियान

-एक पत्रकार के इशारे पर अभियान चलाने का आरोप, पत्रकार को पीटा

-दुकानदारों ने पत्रकार के खिलाफ गुड़म्बा थाने में दिया प्रार्थना पत्र

लखनऊ AP3 न्यूज़– नगर निगम जोन तीन ने टीम ने प्रवर्तन दल बुधवार को कुर्सी रोड, बायोटेक पार्क के पास अतिक्रमण अभियान चलाया। अभियान के दौरान करीब 15 अस्थाई दुकानों को तोड़ दिया गया। नगर निगम के अधिकारियों पर लोगों ने आरोप लगाते हुए कहा कि कोर्ट के आदेश के बाद भी दुकानों को ध्वस्त कर दिया गया। नाराज दुकानदारों ने सड़क जाम कर दिया। करीब एक घण्टे चले हंगामे के बाद गुड़म्बा पुलिस ने लोगों को समझाबुझा कर शांत कराया। दुकानदारों ने एक पत्रकार के खिलाफ थाने में प्रार्थना पत्र दिया है।


नगर निगम जोन-3 के कर अधीक्षक अनिल आनंद, कर अधीक्षक जोन-7 आरएस कुशवाहा, राजस्व निरीक्षक जोन-3 के विवेक मिश्रा, राजस्व निरीक्षक जोन -7 के विवेक सिंह के नेतृत्व में नगर निगम का प्रवर्तन दल करीब 11 बजे कुर्सी रोड, बायोटेक पार्क
पहुंचा। प्रवर्तन दल ने पार्क की बाउंड्री के पास बने 15 अस्थाई दुकानों को तोड़ना शुरू कर दिया।



कोर्ट का आदेश दिखाया, पर नहीं रोकी कार्रवाई
बटहा सबौली, कुर्सी रोड निवासी सरोज यादव ने बताया कि यह उनकी जमीन है। उन्होंने उसकी कोर्ट की कॉपी भी नगर निगम के अधिकारियों को दिखाया। लेकिन अधिकारियों ने एक नहीं सुनी और सभी दुकानों को तोड़ दिया। कोर्ट के आदेश की अनदेखी से नाराज सरोज व उनके परिवारीजनों ने हंगामा शुरू कर दिया। सपा की महिला कार्यकारणी की पदाधिकारी विभा शुक्ला ने नगर निगम के अभियान का विरोध किया। जिसके बाद सभी जेसीबी के आगे लेट गए। इससे कुर्सी रोड पर जाम लग गया।



पत्रकार के इशारे पर कार्रवाई का आरोप, पिटाई
सरोज ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर उसने अपनी जमीन पर कब्जा लेकर 15 लोगों से एग्रीमेंट कर जमीन किराए पर दे दी। एक दैनिक अखबार के पत्रकार ने भी अपनी ग्राम प्रधान पत्नी के नाम से एग्रीमेंट कराया। जिसपर वह ढाबा चला रहे थे। पिछले छह माह से किराया भी नहीं दे रहे थे। जिसकी शिकायत मुख्यमंत्री के जनसुनवाई पर की गई थी। इसके अलावा एसएसपी से को प्रार्थना पत्र दिया गया। इससे नाराज होकर पत्रकार ने नगर निगम अधिकारियों के साथ मिलकर दुकानें गिरवा दी। अभियान के दौरान पत्रकार को देख सरोज व उनके परिवारीजन भड़क गए और उसकी पिटाई कर दी। गुड़म्बा इंस्पेक्टर रविन्द्र नाथ रॉय ने बताया कि सरोज यादव व दुकानदारों ने प्रार्थना पत्र दिया है। नगर निगम को पत्र भेजकर जमीन के बारे में जानकारी मांगी जाएगी। उसी के आधार पर कार्रवाई की जाएगी


दुकानों का हश्र देख छलक आई आँखे

दुकान का हश्र देख रेणु पटवा की आँखें छलक पड़ी। उन्होंने 8 हजार रुपए प्रति माह के किराए पर कॉस्मेटिक के समान की दुकान खोली थी। बुधवार होने के कारण वह दुकान बंद करके सामान लेने बाजार गई थी। निगम के अभियान से सारा सामान टूट गया। इसके अलावा शाबेश, नदीम कुरैशी, सादाब, छोटे, राहुल, मो हारून, प्रेमशंकर, जीशान कुरैशी, मो आफाक, मो शब्बीर आदि की दुकानें अभियान का शिकार हो गई। सभी का आरोप है कि निगम को पूर्व में सूचना देनी चाहिए थी।