Monday, July 22, 2019
Home > Top Stories > शिक्षकों की विभिन्न मांगो को लेकर उ0प्र0 माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेशव्यापी संघर्ष अभियान के तहत संयुक्त शिक्षा निदेशक कार्यालय पर धरना 06 मार्च को

शिक्षकों की विभिन्न मांगो को लेकर उ0प्र0 माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेशव्यापी संघर्ष अभियान के तहत संयुक्त शिक्षा निदेशक कार्यालय पर धरना 06 मार्च को

लखनऊ Ap3 news– शिक्षकों की विभिन्न मांगो को लेकर उ0प्र0 माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेशव्यापी संघर्ष अभियान के तहत बुधवार 06 मार्च को संयुक्त शिक्षा निदेशक कार्यालय पर प्रातः 11 बजे से धरना होगा l जिसमें लखनऊ, सीतापुर, रायबरेली, हरदोई, लखीमपुर व उन्नाव जनपदों के पदाधिकारी एवं सक्रिय कार्यकर्ता सम्मिलित होगे। संगठन के प्रदेशीय मंत्री एवं प्रवक्ता डा0 आर0पी0 मिश्र ने बताया कि दोपहर 2 बजे संयुक्त शिक्षा निदेशक, लखनऊ के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री मा0 योगी आदित्यनाथ को ज्ञापन प्रेषित किया जाएगा। मंगलवार को जिला संगठन के कार्यालय उदयाचल में मण्डल अध्यक्ष तुलसी राम मिश्र की अध्यक्षता में मण्डलीय धरने के तैयारियों की समीक्षा हुई जिसमें प्रदेशीय मंत्री एवं प्रवक्ता डा0 आर0पी0 मिश्र, प्रदेशीय मंत्री नरेन्द्र कुमार वर्मा, जिलाध्यक्ष डा0 आर0के0 त्रिवेदी, जिला मंत्री अरुण कुमार अवस्थी, कोषाध्यक्ष महेश चन्द्र, आय-व्यय निरीक्षक विश्वजीत सिंह आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

उ0प्र0 माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश मंत्री एवं प्रवक्ता डा0 आर0पी0 मिश्र एवं मण्डल अध्यक्ष तुलसी राम मिश्र ने बताया कि धरना के पश्चात मुख्यमंत्री को प्रेषित किए जाने वाले ज्ञापन की प्रमुख मांगों में – 01 अप्रैल के पश्चात नियुक्त शिक्षकों को पुरानी पेन्शन की बहाली, वित्तविहीन शिक्षकों को समान कार्य के लिए समान वेतन एवं समान सेवा शर्तें, शिक्षकों को निःशुल्क चिकित्सा सुविधा, विद्यालयों में रिक्त पदों की पूर्ति, मा0 न्यायालय के आदेशों के अधीन कार्यरत तदर्थ शिक्षकों का विनियमितीकरण, महिला शिक्षकों को बाल्य देखभाल अवकाश सहित देय समस्त अवकाशों को सरलता से उपलब्ध कराया जाना, र्वा 2016 से पूर्व सेवानिवृत्त शिक्षकों को पांचवे एवं छठे उच्चीकृत वेतनमान का लाभ प्रदान करते हुए सातवे वेतनमान में पेनन का पुनरीक्षण तथा माध्यमिक शिक्षा परिषद के कक्ष निरीक्षक, मूल्यांकन, तथा अन्य सभी सम्बन्धित पारिश्रमिक के भुगतान की दरे सी0बी0एस0ई0 के समान हों तथा उनका नकद भुगतान किया जाय आदि सम्मिलित हैं।