Friday, March 22, 2019
Home > Top Stories > विकासनगर पुलिस की लापरवाही से पीड़ित पर दोबारा हुआ जानलेवा हमला

विकासनगर पुलिस की लापरवाही से पीड़ित पर दोबारा हुआ जानलेवा हमला

युवक को निर्वस्त्र कर पिटाई करने के आरोपितों की गिरफ्तारी न होने के चलते एक महीने बाद दोबारा की घटना
युवक पर ईंटों व रॉड से हमला कर किया लहूलुहान
-पीड़ित युवक की फोटो है।
लखनऊ Ap3 news–  युवक को खंभे से बांध निर्वस्त्र कर पिटाई करने के आरोपितों को पुलिस संरक्षण मिलना पीड़ित युवक को भारी पड़ गया। फरार आरोपितों ने गुरुवार रात दोबारा पीड़ित युवक को दबोच कर उस पर ईंटों व लोहे के रॉड से हमला कर लहूलुहान कर दिया। इस बार भी पुलिस ने महज एनसीआर दर्ज कर केस को रफादफा करने में लगी हुई है। पीड़ित परिवार ने कार्रवाई की मांग करते हुए एसएसपी से गुहार लगाई है।

विकासनगर थाना क्षेत्र के सबौली गांव निवासी रवि रावत (22) टेढ़ीपुलिया स्थित सब्जी मंडी में आढ़ती है। रंजिश के चलते 7 फरवरी को स्थानीय निवासी अकील, नंदी वर्मा, शानू और मन्नू रावत रवि को मंडी से जबरन ले जाकर निर्वस्त्र कर उसे खंभे से बांधने के बाद लाठी डंडों से जमकर पिटाई कर दी थी। स्थानीय लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने रवि को आरोपितों के चंगुल से छुड़ाया था। इस मामले में पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ एससी/एसटी ऐक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज कर मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया।
पिटाई के बाद किया अपहरण का प्रयास रवि ने बताया कि आरोपित केस वापस लेने के लिए उसे लगातार धमका रहे थे। गुरुवार को वह निजी काम से सीतापुर रोड स्थित ताड़ीखाना गया था। रात करीब 8 बजे वह रिक्शे से वापस लौट रहा था। तभी अकलापुर के पास वैन सवार अकील, मुन्ना, नंदी वर्मा और अरुण ने रिक्शा रोक कर उसके ऊपर ईंटों व लोहे के रॉड से हमला कर दिया। जिससे वह लहूलुहान होकर जमीन पर गया। इस पर आरोपितों ने उसे वैन में डाल कर अपहरण करने का प्रयास करने लगे। तभी रिक्शा चालक के शोर मचाने पर ग्रामीणों को बचाव में आता देख आरोपित धमकी देते हुए भाग निकले। जिसके बाद पीड़ित को पास के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। वहीं पीड़ित रवि के भाई सोनू का आरोप है कि विकासनगर पुलिस की लापरवाही के चलते दोबारा घटना हुई है। इस मामले में वह शुक्रवार को एसएसपी कलानिधि से मिलने उनके ऑफिस गया था। लेकिन किन्हीं कारणों से मुलाकात नहीं हो सकी। लिहाजा वह शनिवार को एसएसपी से मिलकर गुहार लगाएगा।
वर्जन एनसीआर दर्ज कर पीड़ित का मेडिकल करवाया जा रहा है। मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर धारा बढ़ा ली जाएगी। इसके अलावा आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।
रामकुमार, थाना प्रभारी विकासनगर