Wednesday, November 13, 2019
Home > Crime > पुलिस कर्मी बन सीडीआरआई की महिला क्लर्क के उड़ाए जेवर

पुलिस कर्मी बन सीडीआरआई की महिला क्लर्क के उड़ाए जेवर

शातिर टप्पेबाजों ने गुडम्बा के छुईयापुरवा पुलिस चौकी के पास की वारदात

लखनऊ Ap3 news -गुडम्बा के छुईयापुरवा पुलिस चौकी के पास शातिर टप्पेबाजों ने सीडीआरआई की महिला क्लर्क को आचार संहिता का डर दिखा कर जेवर उतरवा लिए। पीड़िता का आरोप है कि थाने जाने पर पुलिस ने काफी हीलाहवाली के बाद उसकी रिपोर्ट दर्ज की है। जानकीपुरम सेक्टर-जी निवासी वंदना परवानी सीडीआरआई जानकीपुरम में क्लर्क के पद पर कार्यरत हैं। वंदना ने बताया कि गुरुवार की सुबह वह घर से ऑफिस जाने के लिए निकली थी। छुईया पुरवा पुलिस चौकी के पास वह रिक्शे का इंतजार कर रही थी। तभी मोबाइल पर बात करते हुए एक युवक आया उसने खुद को पुलिस कर्मी बताते हुए कहा कि उसे दरोगा जी बुला रहे हैं। वंदना के मुताबिक जब वह कथित दरोगा के पास गई तो आरोपी ने उसे आचार संहिता का डर दिखाते हुए जेवर पहनने पर धमकाने लगे।

—-
दो हजार रुपये जुर्माना दो, नहीं तो जेवर बैग में रखो

वंदना ने बताया कि कथित दरोगा ने कहा कि देश में चुनाव हो रहा है और तुम इतने सारे जेवर पहन कर चल रही हो। यह आचार संहिता का उलंघन है। आपको दो हजार रुपये का जुर्माना देना पड़ेगा। कथित दरोगा की फटकार से वंदना डर गई। जिसके बाद आरोपियों ने कहा कि सारे जेवर को उतार कर वह अपने बैग में रख ले। पीड़िता के मुताबिक उसने सोने के चार कंगन, एक चेन और दो अंगूठी उतार कर रखने लगी। तभी आरोपी ने सभी जेवर एक कागज में लपेटकर उसे पकड़ा दिया। पीड़िता के मुताबिक जब वह ऑफिस पहुंच कर कागज की पुड़िया खोली तो उसके होश उड़ गए। कागज में जेवर की जगह कांच की चूड़ियां थीं। इंस्पेक्टर गुडम्बा रवींद्र नाथ राय ने बताया कि पीड़िता की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है और घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाल कर बदमाशों को पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

error: Content is protected !!