Saturday, August 24, 2019
Home > Top Stories > ‘राम प्रताप विषमता होई’

‘राम प्रताप विषमता होई’

लखनऊ Ap3news- ट्रांस गोमती माहेश्वरी महिला संगठन की ओर से विपुल खण्ड गोमतीनगर में चल रही श्रीराम के कथा के अन्तिम दिन सोमवार को पं. राम चन्द्र पाण्डेय व पतंजलि पाण्डेय ने कहा कि संसार में सब कुछ संभव है। किसी वस्तु का अभाव नहीं है। अभाव है तो हमारे आपके भाव में है क्योंकि भगवान तो भाव के वश में होते हैं। रामकथा से हमें संस्कार की शिक्षा मिलती है। पिता की आज्ञा पाकर राम का वन में जाना, भरत द्वारा भाई के सम्मान में राज पाठ को त्याग देना जैसे प्रसंग युगों युगों तक मानव समाज को प्रेरणा देते रहेंगे। पं.राम चन्द्र पाण्डेय ने कहा कि राम राज्य में कोई किसी से वैर नही करता था। विषमता का सर्वदा अभाव था ‘राम प्रताप विषमता होई’। राम कथा परिवार तथा राष्ट्र को जोडने के लिए है। इस मौके पर ममता राठी, प्रदीप झंवर, बबिता सोमानी,सुमन गटटानी, किरण, स्वाती, महेन्द्र सोनी मौजूद रहे।

error: Content is protected !!