Wednesday, April 14, 2021
Home > Top Stories > निर्माण कार्यो में मानको की अनदेखी पर विधायक डॉ नीरज बोरा के तेवर सख्त

निर्माण कार्यो में मानको की अनदेखी पर विधायक डॉ नीरज बोरा के तेवर सख्त

-नगर निगम के अधिकारियों को लगाई फटकार, फर्म के खिलाफ कार्रवाई व सामग्री की लैब टेस्टिंग के दिये निर्देश

-डॉ नीरज बोरा ने किया क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यो का औचक निरीक्षण

लखनऊAp3news-उत्तर विधानसभा में डूडा द्वारा कराये जा रहे विकास कार्यों का औचक निरीक्षण करने मंगलवार को पहुंचे विधायक डॉ नीरज बोरा का पारा मानको की अनदेखी पर चढ़ गया। गुस्से से वह बिफ़र पड़े। नगर निगम के अधिशाषी अभियंता को फटकार लगाते हए फर्म के खिलाफ कार्रवाई व जानकीपुरम सहारा स्टेट से छुइया पुरवा की ओर बनाये जा रहे नाले की लैब टेस्टिंग कराने के निर्देश दिए।

उत्तर विधानसभा के विधायक डॉ नीरज बोरा अपने क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यो को लेकर काफी सजग है। वह बराबर इन कार्यो का औचक निरीक्षण भी करते रहते हैं। इसी क्रम में मंगलवार को विधायक डॉ नीरज बोरा सबसे पहले फैजुल्लागंज प्रथम वार्ड अन्तर्गत आने वाले महर्षि नगर पहुंचे। जय श्री बाला जी कन्स्ट्रक्शन फर्म द्वारा कराये जा रहे इंटरलाकिंग कार्य मानक के अनुरूप न होता देख विधायक डॉ बोरा का पारा चढ़ गया।

उन्होंने नगर निगम के अधिशासी अभियन्ता मनीष अवस्थी से नाराजगी जाहिर करते हुये पुनः इस मार्ग के निर्माण की बात कही। साथ ही मानक के अनुरूप कार्य न होने पर संबंधित ठेकेदार के फर्म पर कार्रवाई के निर्देश दिए।

जानकीपुरम द्वितीय वार्ड अन्तर्गत छुइयापुरवा गांव में कराये गये इंटरलाकिंग कार्य का भी निरीक्षण किया। इस दौरान थोडी बहुत कमियां दिखने पर उसे सुधारने के निर्देश दिये।

नवनिर्मित नाले की लैब टेस्टिंग की मांग

निरीक्षण के क्रम में विधायक डॉ नीरज बोरा ने जलज त्रिपाठी फर्म द्वारा जनकीपुरम सहारा स्टेट से छुइयापुरवा की ओर बनाये गए नाले को भी देखने पहुंचे। डॉ बोरा को नाले में मानक के अनुरूप कार्य नहीं नजर आया। जिसपर उन्होंने मौजूद अधिकारियों से नाले में इस्तेमाल सामग्री की लैब टेस्टिंग कराने के निर्देश दिए।

 

 

जल्द होगा पार्क का सौन्दर्यीकरण

जानकीपुरम द्वितीय वार्ड अन्तर्गत सेक्टर जी स्थित एक पार्क अत्यन्त ही जर्जर अवस्था में दिखा। विधायक डॉ नीरज बोरा ने मौके पर मौजूद नगर निगम के अधिशासी अभियन्ता को पार्क के तत्काल सौन्दर्यीकरण हेतु निर्देशित किया। वहीं अधिशासी अभियन्ता द्वारा जल्द ही प्रस्ताव तैयार कर सौन्दर्यीकरण की बात कही गयी।