Wednesday, September 18, 2019
Home > Top Photos > फारेंसिक टीम ने घटना का री-कंस्ट्रक्शन कर हत्या व आत्महत्या की गुत्थी सुलझाने का किया प्रयास

फारेंसिक टीम ने घटना का री-कंस्ट्रक्शन कर हत्या व आत्महत्या की गुत्थी सुलझाने का किया प्रयास

23 मई को कुकरैल के जंगल मे गर्लफ्रेंड के साथ घूमने गए बीटेक छात्र की संदिग्ध हालात में हुई मौत का मामला
-मां ने दर्ज कराया था बेटे की गर्लफ्रेंड के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट
लखनऊ Ap3news- गुडम्बा के कुकरैल जंगल मे 23 मई को गर्लफ्रेंड के साथ घूमने गए बीटेक छात्र की संदिग्ध हालत में हुई मौत के मामले में मां ने गर्लफ्रेंड व उसके अज्ञात साथियों के खिलाफ 27 मई को हत्या की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। हत्या या आत्महत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए गुरुवार को फारेंसिक टीम ने घटना स्थल का री-कंस्ट्रक्शन कर साक्ष्य जुटाए।
नया पुरवा फैजुल्लागंज निवासी शैलेन्द्र सिंह उर्फ शालू आईआईएम रोड स्थित महर्षि यूनिवर्सिटी से बीटेक थर्ड ईयर की पढ़ाई कर रहा था। 23 मई को शैलेन्द्र कॉलेज में पेपर देने के बाद अपनी गर्लफ्रेंड के साथ कुकरैल के जंगल मे घूमने गया था। युवती ने पुलिस को बताया था कि शैलेन्द्र जंगल के फेस-2 में जाने की जिद कर रहा था। जिसका उसने विरोध किया था। इससे नाराज शैलेन्द्र ने पहले उसी के डुपट्टे से फांसी लगाने का प्रयास किया। युवती के डुपट्टा छीनने पर शैलेन्द्र पेड़ पर चढ़ गया और पैंट की बेल्ट निकाल कर फांसी लगा ली। उसे लोगों की मदद से किसी तरह फंदे से उतार कर पास के एक निजी अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस मामले में मृतक की मां लक्ष्मी गौतम ने 27 मई को पुलिस को तहरीर देकर युवती व उसके अज्ञात साथियों के विरुद्ध हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराया था। इंस्पेक्टर गुडम्बा रवींद्र नाथ राय ने बताया कि गुरुवार को फारेंसिक टीम के ऑफिसर हामिद और संजय अन्य सहयोगियों के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। इस दौरान मृतक शैलेन्द्र की गर्लफ्रेंड के अलावा मृतक के परिवारीजन भी मौजूद थे। टीम ने युवती द्वारा बताए गए घटना क्रम का री-कंस्ट्रक्शन किया। शैलेन्द्र के रूप में डमी को फांसी पर लटकाया गया। पूरे घटना स्थल की फोटोग्राफी करवाने के साथ ही पेड़ की ऊंचाई की भी नाप करवाई गई थी। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक इस दौरान मृतक के परिवारीजन व आरोपित युवती के बीच तीखी नोकझोक भी हुई। हालांकि पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाबुझाकर शांत करवाया। इंस्पेक्टर का कहना है कि हत्या के साक्ष्य मिलने पर ही आरोपित युवती के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। युवती के मोबाइल की कॉल डिटेल भी निकलवाई गई है।

error: Content is protected !!