Tuesday, December 10, 2019
Home > Health > डॉ रवि भास्कर क्लीनिक इंदिरानगर में खुला डाॅट्स सेंटर

डॉ रवि भास्कर क्लीनिक इंदिरानगर में खुला डाॅट्स सेंटर

अब निजी चिकित्सालयों पर भी मिलेंगी टीबी की निःशुल्क दवाइयाॅ
लखनऊ Ap3news- अब निजी चिकित्सालयों पर भी मिलेंगी टीबी की निःशुल्क दवाइयाॅ मिल सकेंगी। पुनरीक्षित राष्ट्रीय क्षय रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत शनिवार से क्षय रोगियों के लिए डॉ रवि भास्कर क्लीनिक, इंंदिरानगर में टीबी की निःशुल्क दवाइयां की सुविधा का शुभारंभ हो गया है।


जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ बीके सिह द्वारा डाॅट्स सेंटर का उदघाटन किया गया। उन्होनें बताया कि टीबी के इलाज का पूरा कोर्स करना टीबी के खात्मे के लिए बहुत जरूरी है, साथ ही पैसे की वजह से किसी भी मरीज की दवा ना छूटे इसका खास ख्याल रखा जा रहा है। निजी चिकित्सालयों में डाॅट्स सेंटर खोलना इसी दिशा में एक कदम है। यह निजी क्लीनिक डिसपरसल सेंटर की तरह काम करेंगी साथ ही निक्षय पोषण योजना के अंतर्गत इलाज के दौरान हर टीबी मरीज को प्रतिमाह 500रू मिले इस बात की घोषणा भी की।


डाॅ0 रवि भास्कर, इंदिरानगर में रहने वाले एक प्रसिद्ध चेस्ट फिजीशियन हैं। यहाॅ शहरी,देहात एवं बाहर के जिले के रोगी टीबी के इलाज हेतु आते हैं। परंतु आर्थिक तंगी के कारण बहुत से मरीज टीबी का इलाज पूरा नहीं करते हैं एवं बीच में ही दवा बंद कर देते हैं,जिसके कारण एम0डी0आर0 का खतरा रहता है। डा0 रवि भास्कर ने जिला क्षय रोग अधिकारी को धन्यवाद देते हुये उनके इस कदम की सराहना की और इसे टीबी के खात्मे की ओर एक सार्थक कदम बताया। उन्होने टीबी के क्षेत्र में कार्य कर रही जीत;ज्वाइन्ट इर्फट फार इलिमिनेटिंगद्ध टी0बी0 परियोजना का भी इस मौके पर धन्यवाद किया जिनके माध्यम से हर मरीज को इलाज पूरा करने में सहयोग किया जा रहा है।
आइ0एम0ए0 प्रेसिडेंट डाॅ0 जी0पी0 सिंह भी इस मौके पर मौजूद रहे और उन्होने लखनऊ के अन्य प्राइवेट डाॅक्टरों से अपील कि वो भी जीत प्रोजेक्ट से जुडकर टीबी के पेशेंट को चिन्हित कर लखनऊ को टीबी मुक्त बनाने में सहयोग प्रदान करें उन्होने प्रिवेंसन इज वेटर दैन क्योर पर विशेष बल दिया।
डब्लू0एच0आ0े कंसल्टेंट डाॅ0 उमेश त्रिपाठी ने प्राइवेट सेक्टर को दी जा रही सुविधाओं के बारे में बताया और सभी डाॅक्टरों एवं निजी चिकित्सालयों को इसका लाभ लेने के लिए प्रोत्साहित किया। कार्यक्रम में जिला आर0एन0टी0सी0पी0 की टीम, आर0एम0एल0 टी0यू0 की टीम एवं जीत परियोजना के शैलेंद्र उपाध्याय, अंजुल सचान और अन्य सदस्यगण भी मौजूदा रहे।
ममता एन0 जी0 ओ0 से स्टेट लीडर शुभ्रा तिवारी ने कार्यक्रम के अंत में सभी को इस नई शुरूआत के लिए धन्यवाद दिया।
इस मौके पर जीत प्रोजेेक्ट की टीम, पूर्व राज्यपाल श्री माता प्रसाद,पूर्व संयुक्त निदेशक स्वास्थ्य डा0 एस0पी0 भास्कर, के0 जी0 एम0 यू0 के एसोशिएट प्रोफेसर डा0 अजय वर्मा, भास्कर फाउन्डेशन की चीफ ट्रस्टी श्रीमती पूजा सिहं भी मौजूद रही।


डा0 रवि भास्कर ने बताया कि डा0 रवि भास्कर क्लीनिक जनपद का प्रथम निः शुल्क प्राइवेट दवा वितरण केन्द्र के रूप में संचालन करेगा। इस केन्द्र के संचालन से क्षय रोग के रोगियों को सुविधा सुलभ होगी एवं इससे उनके इस रोग पर व्यय होने वाली आर्थिक क्षति भी नही होगी।

इस केन्द्र से जनपद के आस-पास के रोगी लाभ ले सकेंगे। यह केन्द्र अपने आप में निजी क्षेत्र के रूप मे सहभागिता करेगी एवं क्षय-रोग नियन्त्रण में अग्रणी भूमिका अदा करेगी।

error: Content is protected !!