Wednesday, September 18, 2019
Home > Crime > छेड़छाड़ पीड़िता को थप्पड़ मारने वाले दारोगा के खिलाफ दर्ज हुई रिपोर्ट

छेड़छाड़ पीड़िता को थप्पड़ मारने वाले दारोगा के खिलाफ दर्ज हुई रिपोर्ट

-पीड़ित किशोरी का दावा 26 अप्रैल की रात छेड़खानी का विरोध करने पर युवकों ने की थी उसकी पिटाई

 -सूचना पर पहुंचे दरोगा ने भी जड़े थे थप्पड़

-रविवार को गुडम्बा थाने का निरीक्षण करने पहुंचे एसएसपी से पीड़िता ने लगाई थी गुहार,फटकार के बाद दर्ज हुई रिपोर्ट

लखनऊ Ap3news- गुडम्बा के यूनिटी सिटी चौराहे के पास 26 अप्रैल की रात ड्यूटी खत्म कर घर लौट रही किशोरी को छेड़छाड़ का विरोध करने पर कुछ युवकों ने पिटाई कर दी थी। उसे अगवा करने का प्रयास भी किया गया था। आरोप है कि सूचना पाकर पहुंचे दारोगा कौशलेंद्र सिंह ने उल्टे किशोरी की ही सरेआम पिटाई कर दी थी। पीड़ित किशोरी का दावा है कि उसके पास घटना की सीसीटीवी फुटेज होने के बावजूद पुलिस उसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं कर रही थी। रविवार को गुडम्बा थाने का औचक निरीक्षण करने पहुंचे एसएसपी कलानिधि नैथानी से मिलकर पीड़िता ने कार्रवाई के लिए गुहार लगाई। एसएसपी की फटकार के बाद गुडम्बा पुलिस ने आरोपित युवकों के साथ ही दरोगा कौशलेंद्र सिंह के खिलाफ छेड़छाड़ और मारपीट की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

 मड़ियांव निवासी 17 वर्षीय किशोरी के मुताबिक वह गुडम्बा थाना क्षेत्र के यूनिटी चौराहे के पास एक कपड़े की दुकान में काम करती थी। 26 अप्रैल की रात करीब 9 बजे वह दुकान से वापस घर लौट रही थी। जीएस कॉम्प्लेक्स के पास ई-रिक्शा का इंतजार कर रही थी। तभी उसी कॉम्प्लेक्स के रहने वाले तीन युवक व पास का ही निवासी पंकज उसके पास आकर छेड़छाड़ शुरू कर दी।विरोध करने पर लात-घूंसों से उसकी जमकर पिटाई की। उसके बचाव में आए एक युवक को भी नहीं बख्शा। आरोप है इस दौरान आरोपितों ने उसे कार में भी खींचने का प्रयास करने लगे। स्थानीय लोगों को बचाव में आता देख आरोपित धमकी देते हुए भाग निकले। पीड़ित किशोरी के मुताबिक घटना के बाद उसने 1090 पर शिकायत की थी। कुछ देर बाद गुडम्बा थाने के दारोगा कौशलेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे। जहां आरोप है कि वह आरोपित लड़कों का ही पक्ष ले रहे थे। किशोरी के विरोध करने पर दरोगा ने किशोरी को ही कई थप्पड़ रसीद कर चुप करा दिया। वहीं दो आरोपितों को दरोगा थाने लेकर गए। जहां दोनों के खिलाफ महज शांतिभंग के तहत कार्रवाई कर पुलिस ने खानापूर्ति कर ली।

इंस्पेक्टर ने डिलीट करवा दी दरोगा के पीटने वाली फुटेज

 पीड़ित किशोरी का दावा है कि दरोगा कौशलेंद्र ने कई स्थानीय लोगों के सामने उसकी पिटाई कर दी थी। पूरा मामला एक रेस्टोरेंट के सामने लगे सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हुआ था। आरोप है कि जिसकी फुटेज देखने के बाद गुडम्बा के तत्कालीन इंस्पेक्टर रवींद्र नाथ राय ने उसे डिलीट करवा दिया। हालांकि पीड़िता का दावा है कि युवकों द्वारा उसकी पिटाई करने की फुटेज उसके पास मौजूद हैं। घटना के बाद से ही वह रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए लगातार थाने के चक्कर काट रही है। सुनवाई न होने पर उसने एसएसपी, डीजीपी, महिला आयोग व मुख्यमंत्री कार्यालय जाकर गुहार लगाई थी।

वर्जन

पीड़ित किशोरी के आरोप के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। पूरे प्रकरण की जांच कराई जाएगी। दरोगा पर लगे आरोपों की पुष्टि होने पर कार्रवाई होगी।
 -अमित कुमार, एएसपी ट्रांसगोमती

error: Content is protected !!