Monday, July 6, 2020
Home > Crime > कलयुगी बेटे ने पिता को चाकू से गोद डाला, मौत

कलयुगी बेटे ने पिता को चाकू से गोद डाला, मौत

-घटना के समय सो रहा था मृतक, आरोपी फरार

लखनऊ Ap3news- जानकीपुरम के सेक्टर-तीन में बेटे ने अपने पिता को सोते समय चाकुओं से गोदकर भाग कर हत्या कर दी। मौके पर पहुंची पुलिस घायल को ट्रॉमा सेंटर ले गई। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने पत्नी की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और फरार आरोपित की तलाश में दबिश दे रही है।

 सीतापुर रोड खदरा निवासी ताज मोहम्मद (50) जानकीपुरम के सेक्टर-तीन में झोपड़ी डाल कर अपनी दूसरी पत्नी सत्तो व 11 बच्चों के साथ रहते थे। इंस्पेक्टर जानकीपुरम मुहम्मद अशरफ ने बताया कि ताज मोहम्मद ई-रिक्शा चला कर परिवार का भरण-पोषण करता था। रात करीब 2 बजे वह तख्त पर सो रहा था। तभी पहली पत्नी के बेटे शान मोहम्मद ने उस पर चाकुओं से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। पीड़ित की चीख सुनकर घर के लोग जग गए। जिसके बाद आरोपित भाग निकला। यूपी-100 पर घटना की सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने घायल ताज मोहम्मद को आनन-फानन में ट्रॉमा सेंटर लेकर गई। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बेटी को लगा कि पिता देख रहे हैं डरावना सपना

घटना की प्रत्यक्षदर्शी बेटी नूरजहां (8) ने पुलिस को बताया कि जिस समय सौतेला भाई पिता पर हमला कर रहा था। उस दौरान वह भी पास ही सोई हुई थी। पिता के चीखने पर पहले तो उसे लगा कि पिता डरावना सपना देख रहे हैं। इस पर उसने जागते हुए भी आंख नहीं खोली। लेकिन कई बार चीखने की आवाज पर उसकी नींद टूट गई। इस पर उसने देखा कि भाई पिता पर चाकुओं से हमला करने के साथ ही गर्दन भी दबा रहा था। पिता के बचाव में उसने स्वयं विरोध करने के साथ ही शोर मचाने लगी। घर के अन्य सदस्यों के जग जाने पर आरोपित धमकी देते हुए भाग निकला।

सौतेली मां पर आरोपित की थी बुरी नियत, थाने पहुंचा था मामला

पुलिस पड़ताल के दौरान पता चला कि मृतक ताज मोहम्मद की पहली पत्नी की करीब 16 साल पहले मौत हो गई थी। पहली पत्नी से छह बच्चे थे। जिनमें से आरोपित सबसे छोटा था। इसके बाद उसने रिश्ते में बेटी लगने वाली सत्तो (28) से वर्ष 2008 में शादी कर ली। सत्तो से पांच बच्चे हैं। स्थानीय लोगों के मुताबिक कुछ दिनों से आरोपित सत्तो पर बुरी नजर रखता था। जिसका मृतक विरोध कर रहा था। विवाद बढ़ने पर मामला थाने भी पहुंचा था। जहां पुलिस ने आरोपित को फटकार लगाते हुए सुधरने की बात कही थी।