Friday, June 5, 2020
Home > Crime > गुडम्बा पुलिस ने 10 दिन बाद लिखा लूट के प्रयास का मुकदमा

गुडम्बा पुलिस ने 10 दिन बाद लिखा लूट के प्रयास का मुकदमा

-नवाजपुर गांव में 17 जून की रात चार बदमाशों ने किसान को बंधक बना कर किया था लूट का प्रयास

-पीड़ित के बेटी ने शोर मचाकर गांव वालों से मांगी थी मदद, बाइक छोड़कर भागे बदमाश

-तत्कालीन इंस्पेक्टर ने नहीं लिखा था मुकदमा

लखनऊ। हिन्दुस्तान संवाद

गुडम्बा पुलिस ने नवाजपुर गांव में किसान को बंधक बनाकर लूट का प्रयास करने वाले मामले का 10 दिन बाद मुकदमा दर्ज किया है। घटना के समय किसान की बेटी ने मदद के लिए को शोर मचा दिया। जिसके कारण बदमाश बाइक छोड़कर भाग निकले थे। तभी से पीड़ित थाने का चक्कर लगा रहा था। मामले का संज्ञान आने पर नवनियुक्त इंस्पेक्टर रितेंद्र प्रताप सिंह ने गुरुवार को पीड़ित की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस मौके से मिली बाइक के आधार पर बदमाशों को पकड़ने का प्रयास कर रही है।

गुडम्बा के नवाजपुर, दसौली गांव निवासी किसान गिरधारी ने बताया कि गांव के बाहर उसका नवनिर्मित घर है। 17 जून की रात वह घर के बरामदे में सो रहा था। जबकि बेटी कोमल दूसरे कमरे में सोई हुई थी। देर रात खटपट की आवाज पर गिरधारी जग गए। उसने देखा कि घर में चार बदमाश घुसे हुए हैं। यह देख कर उसने शोर मचाना शुरू कर दिया। तभी बदमाशों ने उसे पकड़ लिया और उसकी गर्दन दबाने का प्रयास करने लगे। शोर सुनकर कोमल भी जग गई। पिता को बदमाशो से घिरा देखकर भी कोमल ने साहस नहीं छोड़ा। वह छत पर चढ़ कर शोर मचाकर गांव वालों को मदद के लिए बुलाने लगी। ग्रामीणों ने बदमाशों की घेराबंदी शुरू की। पकड़े जाने के डर से सभी बदमाश भाग निकले। सूचना पाकर पहुंची पुलिस को गिरधारी के घर से कुछ दूरी पर एक लावारिस बाइक मिली। पीड़ित का आरोप है कि घटना के बाद से ही वह रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए थाने के चक्कर काट रहा था। इंस्पेक्टर गुडम्बा रितेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि घटना का पता चलने पर रिपोर्ट दर्ज करवा दी गई है। बरामद बाइक के नंबर के आधार पर बदमाशों का सुराग लगाया जा रहा है।