Saturday, June 6, 2020
Home > Crime > जानकीपुरम पुलिस ने 22 दिन बाद दर्ज की फ्रॉड की रिपोर्ट

जानकीपुरम पुलिस ने 22 दिन बाद दर्ज की फ्रॉड की रिपोर्ट

– आरोपितों ने होम डिपार्टमेंट के ज्वॉइंट सेक्रेटरी का डेबिट कार्ड बदल कर लिकाल लिए थे 45 हजार रुपये

लखनऊ Ap3news-जानकीपुरम में शातिर जालसाजों ने होम डिपार्टमेंट के रिटायर्ड ज्वॉइंट सेक्रेटरी की मदद के बहाने डेबिट कार्ड बदल कर 45 हजार रुपये की चपत लगा दी। पीड़ित को आरोपित के खिलाफ  एफआईआर दर्ज करवाने के लिए 22 दिन तक थाने के चक्कर काटने पड़े। एसएसपी से शिकायत करने पर शनिवार को पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

 सेक्टर-एक जानकीपुरम निवासी अमरेश चंद्र (66) सचिवालय होम डिपार्टमेंट से ज्वॉइंट सेक्रेटरी के पद से रिटायर हैं। अमरेश के मुताबिक पांच जुलाई को वह सेक्टर-एक स्थित एक्सिस बैंक के एटीएम बूथ में रुपये निकालने गए थे। जहां 3-4 लड़कों ने मदद के बहाने उसका डेविट कार्ड बदल दिया। कुछ देर बाद उसके अकाउंट से 20 हजार रुपये निकाल लिए गए। घर पर मोबाइल होने के कारण पीड़ित को तत्काल पता नहीं चल सका। घर पहुंच कर मोबाइल में मेसेज देख कर उसे ठगी का अहसास हुआ। पास में मौजूद डेविड कार्ड किसी और का होने पर उसने तुरंत जानकीपुरम थाने जाकर तहरीर दी। आरोप है कि इंस्पेक्टर जानकीपुरम मुहम्मद अशरफ ने तहरीर लेकर जांच कराए जाने की बात कह कर उसे चलता कर दिया। उधर आरोपितों ने आशियाना स्थित शाहू एजेंसी से 25 हजार रुपये की एलईडीई कार्ड से पेमेंट देकर खरीद ली। पीड़ित के मुताबिक उसने शाहू एजेंसी जाकर आरोपितों की फुटेज भी हासिल कर ली। इसके बावजूद पुलिस रिपोर्ट दर्ज नहीं कर रही थी। हताश होकर उसने शनिवार को एसएसपी कलानिधि नैथानी से शिकायत करने उनका कार्यालय गया था। जहां से एसएसपी के पीआरओ ने इंस्पेक्टर जानकीपुरम को कॉल कर रिपोर्ट दर्ज करने के लिए निर्देशित किया।