Friday, October 18, 2019
Home > Crime > गर्लफ्रेंड बनने से इनकार करने पर तमंचा ले घरवालों को धमकाया

गर्लफ्रेंड बनने से इनकार करने पर तमंचा ले घरवालों को धमकाया

-आरोपित युवक छह महीने से किशोरी को कर रहा  था परेशान

– थाने पर माफी मांगने के बाद हुआ समझौता

लखनऊ Ap3news- मड़ियांव के भारत नगर में एक सिरफिरे युवक ने किशोरी के गर्लफ्रेंड बनने से इनकार करने पर इस कदर बौखला गया कि वह देर रात प्लास्टिक का तमंचा लेकर किशोरी के घर जा धमका और छत पर चढ़कर तमंचा लहराते हुए हंगामा शुरू कर दिया। प्लास्टिक के तमंचे को असली समझ कर पीड़ित परिवार सहम गया। विरोध करने पर आरोपित ने किशोरी को परिवार समेत मारने की धमकी दी। यूपी-100 की सूचना पर पहुंची पुलिस आरोपित को नकली तमंचे के साथ दबोच कर थाने ले गई। जहां आरोपित के माफी मांगने के बाद दोनों पक्षों में लिखित में समझौता करवा दिया गया।

 इंस्पेक्टर मड़ियांव संतोष कुमार सिंह ने बताया कि भरतनगर निवासी 15 वर्षीय किशोरी कक्षा-8 की छात्रा है। किशोरी के मुताबिक भरतनगर का ही निवासी एक युवक करीब छह महीने से उसका पीछा कर परेशान कर रहा था। वह किशोरी पर गर्लफ्रेंड बनने का दबाव बनाता था। इनकार करने पर धमकी देने लगा। इतना ही नहीं किशोरी की मां के मोबाइल पर कॉल करके धमकी देने के साथ ही अश्लील मैसेज भी भेजता था। आरोपित की हरकतों से परेशान पीड़ित परिवार ने 20 जुलाई को मड़ियांव थाने जाकर आरोपित के खिलाफ लिखित शिकायत कर कड़ी कार्रवाई की मांग की थी। आरोप है कि पुलिस ने इस मामले में महज एनसीआर दर्ज कर खानापूर्ति कर शांत बैठ गई, आरोपित लगातार परेशान करता रहा। किशोरी के भाई के मुताबिक बुधवार रात करीब 10 बजे किशोरी व मां घर पर अकेले थीं। तभी आरोपित दीवार के सहारे छत पर चढ़ आया और तमंचा लहराते हुए किशोरी पर गर्लफ्रेंड बनने का दबाव बनाने लगा। विरोध करने पर धमकी दी। जिसके बाद मौके पर काफी भीड़ इकट्ठा हो गई। घटना की सूचना किसी ने यूपी-100 पर दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस आरोपित को तमंचे के साथ दबोच लिया। इंस्पेक्टर मड़ियांव संतोष कुमार सिंह ने बताया कि तमंचा प्लास्टिक का था। जिसे पीड़ित परिवार ने असली समझ लिया था। थाने आने के बाद दोनों पक्षों ने आपसी बातचीत के बाद सुलह समझौता कर लिया है। लिहाजा आरोपित को हिदायत देकर छोड़ दिया गया।

error: Content is protected !!