Thursday, February 20, 2020
Home > Crime > जानकीपुरम में जुडो-कराटे ट्रेनर ने लगाई फांसी

जानकीपुरम में जुडो-कराटे ट्रेनर ने लगाई फांसी

-मृतक का दरोगा भाई की जानकीपुरम थाने में है तैनाती

लखनऊ Ap3news-जानकीपुरम के सेक्टर एफ में किराए के कमरे में रह रहे जुुडो-कराटे ट्रेनर ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक का बड़ा भाई जानकीपुरम थाने में दरोगा है। सूचना पाकर पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे भाई ने छानबीन करवाई। मौके पर सुसाइड नोट न मिलने के कारण आत्महत्या की वजह स्पष्ट नहीं हो सकी है। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजने के साथ ही मामले की जांच शुरू कर दी है।

 इंस्पेक्टर जानकीपुरम मुहम्मद अशरफ ने बताया कि बदायूं निवासी ओम नारायण सिंह (38) करीब एक साल से लखनऊ में रहकर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे थे। इसके अलावा वह जुडो-कराटे के ट्रेनर भी थे। ओमनारायण के बड़े भाई शिवनरायन सिंह दरोगा हैं। वर्तमान में उनकी तैनाती जानकीपुरम थाने में ही है। पुलिस के मुताबिक ओम नारायण सिंह 15 दिसंबर से सेक्टर एफ जानकीपुरम निवासी सत्य प्रकाश के घर मे किराए के कमरे में रहते थे। पड़ोस के ही बच्चों को जुडो-कराटे की ट्रेनिंग भी देते थे। सोमवार देर शाम बच्चे उनके कमरे में गया जहां देखा कि ओमनारायण का शव पंखा व गमछे के सहारे फांसी से लटक रहा था।

दहेज हत्या के केस से डिप्रेशन में था मृतक

भाई शिवनरायन ने बताया कि ओमनारायण की पत्नी ने करीब डेढ़ साल पहले सुसाइड कर लिया था। ससुरालवालों ने दहेज हत्या की रिपोर्ट दर्ज करवा दी थी। जिसमे उसे जेल भी जाना पड़ा था। इसी को लेकर ओमनारायण कुछ दिनों से डिप्रेशन में थे। इंस्पेक्टर ने बताया कि फिलहाल मौके से कोई सूइसाइड नोट नहीं मिला है। मृतक का मोबाइल कब्जे में लेकर जांच की जा रही है।

error: Content is protected !!