Thursday, April 9, 2020
Home > Education > बेटियां शिक्षित समर्थ और सशक्त बनें :आनन्दी बेन पटेल

बेटियां शिक्षित समर्थ और सशक्त बनें :आनन्दी बेन पटेल

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, अलीगंज में प्रतिभा सम्मान समारोह

लखनऊ Ap3news-बेटियां शिक्षित समर्थ और सशक्त बनें, महिलाओं के प्रति होने वाली अन्यायपूर्ण घटनाओं का खुलकर प्रतिकार करें और समाज में व्याप्त कुरीतियांे के खिलाफ भी संघर्ष करना सीखें। शिक्षा का उद्देश्य मात्र जानकारी प्राप्त करना ही नहीं बल्कि संस्कारबान बनना भी है। जिस समाज में बेटियों के साथ अन्याय और भेदभाव होता है, उस समाज की उन्नति नहीं हो सकती।

ये विचार शुक्रवार को नेताजी सुभाष चन्द्र बोस राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, अलीगंज, लखनऊ में आयाजित प्रतिभा सम्मान समारोह के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने व्यक्त किये।

उन्होंने कहा कि महिलाओं को सम्पत्ति में पर्याप्त भागेदारी मिलनी चाहिए। जब उनके पास धन सम्पत्ति होगी तो वह विपरीत परिस्थितियों का सामना कर सकेंगी।

उन्होंने कहा कि गुजरात की मुख्यमंत्री रहते हुए उन्होंने सम्पत्ति की खरीद पर महिलाओं के लिए स्टाम्प ड्यूटी मुक्त कर दी थी। छात्राओं के स्वास्थ्य के प्रति चिंता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी नियमित जांच होनी चाहिए जिससे कि उनका हीमोग्लोबिन मानक के अनुरूप बना रहे।

उन्होंने यह भी कहा कि सभी कुलपतियों को निर्देशित किया गया है कि वे कम से कम पांच गांव तथा महाविद्यालयों के प्राचार्य कम से कम एक गांव गोद लें और जरूरत मंदों की मदद करें। राज्यपाल ने रूसा द्वारा निर्मित लाइब्रेरी आॅटोमेशन का भी लोकार्पण किया। महाविद्यालय की प्राचार्य, प्रोफेसर अनुराधा तिवारी ने राज्यपाल का स्वागत किया और बताया कि महाविद्यालय तीसरी बार नैक कराने की दिशा में अग्रसर है तथा ए-ग्रेड पाने के प्रति आशान्वित है। उन्होंने कहा कि अटल जी का स्वप्न इस महाविद्यालय को महिला विश्वविद्यालय के रूप में विकसित करने का था।

 इनका हुआ  सम्मान समारोह

वन्दना सिंह -बी.ए. चतुर्थ सेमेस्टर मनोविज्ञान, पूनम कश्यप एम.ए. चतुर्थ सेमेस्टर समाजशास्त्र अपूर्वा लोहुमी बी.एससी. चतुर्थ सेमेस्टर भौतिक विज्ञान आयुषि मिश्रा बी.एससी. तृतीय वर्ष रसायन विज्ञान अमृता सिंह बी.एससी. चतुर्थ सेमेस्टर गणित हर्षिता यादव बी.एस.सी. चतुर्थ सेमेस्टर वनस्पति विज्ञान निशा वर्मा एम.ए. द्वितीय वर्ष गृह विज्ञान सोनी यादव बी.ए. चतुर्थ सेमेस्टर पुस्तकालय ममता वर्मा बी.ए. चतुर्थ सेमेस्टर शिक्षाशास्त्र तान्या सिंह बी.काम. तृतीय वर्ष वाणिज्य सरिता यादव एम.ए. चतुर्थ सेमेस्टर एम.ए. प्रा.भा. इतिहास वर्षा द्विवेदी बी.ए. तृतीय वर्ष अंग्रेजी रंजना रावत बी.ए. तृतीय वर्ष संस्कृत मिताली सिंह एम. ए. द्वितीय सेमेस्टर अर्थशास्त्र ़श्रुति शुक्ला बी.ए. चतुर्थ सेमेस्टर राजनीति शास्त्र रुकैया फातिमा बी.ए. तृतीय वर्ष शारीरिक शिक्षा मानसी सिंह बी.ए. चतुर्थ सेमेस्टर हिन्दी सायमा बानो बी.एससी. तृतीय वर्ष जंतु विज्ञान को राज्यपाल ने प्रशस्ति-पत्र एवं पुरस्कार देकर सम्मानित किया।

इनकी अतिथियों की रही उपस्थित

कार्यक्रम में लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार राय, आई.आई.एम. के प्रोफेसर बी.के. मोहन्ती, भाउराव देवरस सेवा न्यास, लखनऊ के प्रोफेसर विजय कर्ण, इंदिरा गांधी मुक्त विश्वविद्यालय की क्षेत्रीय निदेशक, डाॅ. मनोरमा सिंह, आई.आई. आई.टी., लखनऊ के निदेशक, अरुण मोहन सेरी, महाराजा बिजली पासी डिग्री कालेज, लखनऊ की प्राचार्य, प्रोफेसर, डाॅ0 मंजु दीक्षित, महामाया राजकी महाविद्यालय, महोना की प्राचार्य, प्रोफेसर भारती सिंह सहित बड़ी संख्या में शिक्षाविद् पूर्व प्राचार्यगण महाविद्यालय के शिक्षक एवं कर्मचारी तथा सैकड़ों छात्रायें मौजूद रहीं। इस कार्यक्रम में परिषदीय पुरस्कारों का भी वितरण किया गया। कार्यक्रम का संचालन डाॅ. रश्मि बिश्नोई ने किया। डाॅ. भास्कर शर्मा ने राज्यपाल को अभिनंदन पत्र प्रस्तुत कर राज्यपाल की सराहना प्राप्त की। धन्यवाद ज्ञापन डाॅ. जय प्रकाश वर्मा ने किया।

error: Content is protected !!